Sosial media

रविवार, 7 जुलाई 2013

सियारामशरण गुप्‍त की कहानी 'काकी' (स्वर- ममता सिंह)

"
'कॉफी-हाउस' (कहवा और कहानियां) अब अपने दूसरे महीने में प्रवेश कर रहा है।

कुछ सुधि-श्रोताओं की ये बात वाक़ई हौसला बढ़ाने वाली है कि अब उन्‍हें रविवार की सुबह इसका इंतज़ार रहता है। पिछले सप्‍ताह तकनीकी कारणों से 'कॉफी हाउस' के प्रकाशन में देर हुई थी। ज़ाहिर है कि हर अंक के साथ हम स्‍वयं भी चीज़ों को तरतीब देना सीख रहे हैं।

बहरहाल...हम फिर याद दिला दें कि हम 'कॉफी-हाउस' में ना सिर्फ पुरानी कालजयी रचनाओं का पाठ करेंगे बल्कि हर दौर की कहानियों को भी स्‍वर देंगे। बाल-कथाओं के वाचन का सुंदर सुझाव भी आया है। इस पर भी अमल करने का प्रयास है। कहानियां एकत्रित करने और रचनाकारों से अनु‍मति का काम लगातार जारी है।

'कॉफी हाउस' के लिए आप भी कहानियां सुझा सकते हैं।
इस बार प्रस्‍तुत है सियाराम शरण गुप्‍त की कहानी 'काकी'। इसे सुनने के लिए आपको अपने व्‍यस्‍त जीवन में से तकरीबन छह मिनिट निकालने होंगे। हैरत की बात है कि सियाराम शरण जी का चित्र हमें नेट पर कहीं नहीं मिला।
आपको बता दें कि इस कहानी की डाउनलोड लिंक नीचे दी गयी है। उस पर क्लिक करते ही कहानी की एम-पी3 फाइल आपके कंप्‍यूटर पर डाउनलोड हो सकेगी। इसे आप अपने मोबाइल, टैबलेट, लैप-टॉप या आई-पॉड जैसे उपकरणों पर संजो सकते हैं। और अपने मित्रों और आत्‍मीयों के साथ साझा कर सकते हैं।


Story : Kaaki
Writer: Siyaram sharan gupt
Voice: Mamta singh
Duration: 6 minutes.


ये रही डाउनलोड कड़ी


पिछली प्रस्‍तुतियां 'गिल्‍लू', 'चीफ़ की दावत', 'सयानी बुआ' और 'एक छोटा-सा मज़ाक़' भी डाउनलोड के लिए उपलब्‍ध है। ये तो याद है ना कि
'कॉफी-हाउस' के ज़रिये हम हर रविवार एक नयी कहानी का पाठ करेंगे।
तो अगले रविवार फिर मिलेंगे 'कॉफी-हाउस' में। 

"
'कॉफी-हाउस' (कहवा और कहानियां) अब अपने दूसरे महीने में प्रवेश कर रहा है।

कुछ सुधि-श्रोताओं की ये बात वाक़ई हौसला बढ़ाने वाली है कि अब उन्‍हें रविवार की सुबह इसका इंतज़ार रहता है। पिछले सप्‍ताह तकनीकी कारणों से 'कॉफी हाउस' के प्रकाशन में देर हुई थी। ज़ाहिर है कि हर अंक के साथ हम स्‍वयं भी चीज़ों को तरतीब देना सीख रहे हैं।

बहरहाल...हम फिर याद दिला दें कि हम 'कॉफी-हाउस' में ना सिर्फ पुरानी कालजयी रचनाओं का पाठ करेंगे बल्कि हर दौर की कहानियों को भी स्‍वर देंगे। बाल-कथाओं के वाचन का सुंदर सुझाव भी आया है। इस पर भी अमल करने का प्रयास है। कहानियां एकत्रित करने और रचनाकारों से अनु‍मति का काम लगातार जारी है।

'कॉफी हाउस' के लिए आप भी कहानियां सुझा सकते हैं।
इस बार प्रस्‍तुत है सियाराम शरण गुप्‍त की कहानी 'काकी'। इसे सुनने के लिए आपको अपने व्‍यस्‍त जीवन में से तकरीबन छह मिनिट निकालने होंगे। हैरत की बात है कि सियाराम शरण जी का चित्र हमें नेट पर कहीं नहीं मिला।
आपको बता दें कि इस कहानी की डाउनलोड लिंक नीचे दी गयी है। उस पर क्लिक करते ही कहानी की एम-पी3 फाइल आपके कंप्‍यूटर पर डाउनलोड हो सकेगी। इसे आप अपने मोबाइल, टैबलेट, लैप-टॉप या आई-पॉड जैसे उपकरणों पर संजो सकते हैं। और अपने मित्रों और आत्‍मीयों के साथ साझा कर सकते हैं।


Story : Kaaki
Writer: Siyaram sharan gupt
Voice: Mamta singh
Duration: 6 minutes.


ये रही डाउनलोड कड़ी


पिछली प्रस्‍तुतियां 'गिल्‍लू', 'चीफ़ की दावत', 'सयानी बुआ' और 'एक छोटा-सा मज़ाक़' भी डाउनलोड के लिए उपलब्‍ध है। ये तो याद है ना कि
'कॉफी-हाउस' के ज़रिये हम हर रविवार एक नयी कहानी का पाठ करेंगे।
तो अगले रविवार फिर मिलेंगे 'कॉफी-हाउस' में। 

11 टिप्पणियाँ:

  1. जब पहली बार यह कहानी पढ़ी थी, तब भी भावुक हो गये थे, आज सुन कर वह सब याद आ गया।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुब-सुबह यह कहानी सुनी।
    बहुत अच्छी आवाज में सुनना अच्छा लगा। आभार!
    रेडियो सखी को बधाई!
    जादू के पापा को धन्यवाद क उन्होंने लिंक दिया इसका। :)

    उत्तर देंहटाएं
  3. आखं भर आई .....नमन भाई युनुस जी और ममता जी को

    उत्तर देंहटाएं
  4. anubhav saaf jhalakata hai wachan me ...achcha laga sunna

    उत्तर देंहटाएं
  5. मर्मस्पर्शी कहानी.
    .............
    आप की पिछली कहानियां भी सुनीं.
    सभी बहुत अच्छी लगीं.

    उत्तर देंहटाएं
  6. अतिमार्मिक । प्रस्तुतीकरण बहुत सुन्दर । ममता जी की आवाज करीब 6 सालों बाद सुनी ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. Simple , heart touching story.Beautifully narrated. Radio Sakhi Mamtaji is Audio Sakhi too.

    उत्तर देंहटाएं
  8. Simple , heart touching story.Beautifully narrated. Radio Sakhi Mamtaji is Audio Sakhi too. --Mohini Moghe

    उत्तर देंहटाएं