Sosial media

रविवार, 30 जून 2013

एंतोन चेखव की कहानी 'एक छोटा-सा मज़ाक़' (वाचक: यूनुस ख़ान)

"
जैसा कि आप जानते हैं कि 'कॉफी-हाउस' में हर सप्‍ताह हम एक कथा का पाठ करते हैं।

कथा-पाठ के इस ब्‍लॉग के ज़रिये हम देश-विदेश की चुनिंदा कहानियों को पढ़ना चाहते हैं। अभी तक आप महादेवी वर्मा, मन्‍नू भंडारी और भीष्‍म साहनी की कहानियों का पाठ कर चुके हैं।

इस बार एंतोन चेखव की कहानी 'एक छोटा-सा मज़ाक' प्रस्‍तुत की जा रही है।
इसका अनुवाद अनिल जनविजय ने किया है।
इस कहानी को सुनने के लिए आपको अपने व्‍यस्‍त-जीवन में से तेरह मिनिट और अठारह सेकेन्‍ड निकालने होंगे।
आपको बता दें कि इस कहानी की डाउनलोड लिंक नीचे दी गयी है। उस पर क्लिक करते ही आप 'डिवशेयर' पर पहुंचेंगे--जहां तकरीबन पंद्रह सेकेन्‍ड के इंतज़ार के बाद कहानी की एम-पी3 फाइल आपके कंप्‍यूटर पर डाउनलोड हो सकेगी। इसे आप अपने मोबाइल, टैबलेट, लैप-टॉप या आई-पॉड जैसे उपकरणों पर संजो सकते हैं। और अपने मित्रों और आत्‍मीयों के साथ साझा कर सकते हैं।


पिछली प्रस्‍तुतियां 'गिल्‍लू', 'चीफ़ की दावत' और 'सयानी बुआ' भी
डाउनलोड के लिए उपलब्‍ध है। 'कॉफी-हाउस' के ज़रिये हम हर रविवार एक नयी कहानी का पाठ करेंगे। 'कॉफी-हाउस' पर हर दौर की कहानियों की प्रस्‍तुति होगी। चित्र साभार- इस साइट से

Story: Ek Chota Sa Mazaak Writer:Anton chekhov
Translation of Chechov's Origional story 'A joke'
Translation by: Anil Janvijay
Voice:Yunus khan
Duration : 13 18



ये रही डाउनलोड कड़ी


ऊपर की लिंक पर क्लिक करेंगे तो आप डिव-शेयर की साइट पर पहुंचेंगे। जहां हरे रंग वाले डाउनलोड बॉक्‍स को क्लिक करने के तकरीबन पंद्रह सेकेन्‍ड के इंतज़ार के बाद डाउनलोड शुरू हो जायेगा
"
जैसा कि आप जानते हैं कि 'कॉफी-हाउस' में हर सप्‍ताह हम एक कथा का पाठ करते हैं।

कथा-पाठ के इस ब्‍लॉग के ज़रिये हम देश-विदेश की चुनिंदा कहानियों को पढ़ना चाहते हैं। अभी तक आप महादेवी वर्मा, मन्‍नू भंडारी और भीष्‍म साहनी की कहानियों का पाठ कर चुके हैं।

इस बार एंतोन चेखव की कहानी 'एक छोटा-सा मज़ाक' प्रस्‍तुत की जा रही है।
इसका अनुवाद अनिल जनविजय ने किया है।
इस कहानी को सुनने के लिए आपको अपने व्‍यस्‍त-जीवन में से तेरह मिनिट और अठारह सेकेन्‍ड निकालने होंगे।
आपको बता दें कि इस कहानी की डाउनलोड लिंक नीचे दी गयी है। उस पर क्लिक करते ही आप 'डिवशेयर' पर पहुंचेंगे--जहां तकरीबन पंद्रह सेकेन्‍ड के इंतज़ार के बाद कहानी की एम-पी3 फाइल आपके कंप्‍यूटर पर डाउनलोड हो सकेगी। इसे आप अपने मोबाइल, टैबलेट, लैप-टॉप या आई-पॉड जैसे उपकरणों पर संजो सकते हैं। और अपने मित्रों और आत्‍मीयों के साथ साझा कर सकते हैं।


पिछली प्रस्‍तुतियां 'गिल्‍लू', 'चीफ़ की दावत' और 'सयानी बुआ' भी
डाउनलोड के लिए उपलब्‍ध है। 'कॉफी-हाउस' के ज़रिये हम हर रविवार एक नयी कहानी का पाठ करेंगे। 'कॉफी-हाउस' पर हर दौर की कहानियों की प्रस्‍तुति होगी। चित्र साभार- इस साइट से

Story: Ek Chota Sa Mazaak Writer:Anton chekhov
Translation of Chechov's Origional story 'A joke'
Translation by: Anil Janvijay
Voice:Yunus khan
Duration : 13 18



ये रही डाउनलोड कड़ी


ऊपर की लिंक पर क्लिक करेंगे तो आप डिव-शेयर की साइट पर पहुंचेंगे। जहां हरे रंग वाले डाउनलोड बॉक्‍स को क्लिक करने के तकरीबन पंद्रह सेकेन्‍ड के इंतज़ार के बाद डाउनलोड शुरू हो जायेगा

3 टिप्पणियाँ:

  1. अत्यन्त सुन्दर !

    (आज का अख़बार ज़रा देर से आया,पर आया तो सही ।)

    - "डाक साब"

    उत्तर देंहटाएं

  2. kya sharat chandra ki ek kahani coffee house me shamil karane ke liye bhej du?

    उत्तर देंहटाएं